Chapter 15 (अध्याय १५) Purusotm Yoga (पुरुषोतम योग - पुरुषोत्तमयोग):  

1 of interpreting sacred tree (Chapter 15 Slok 1 to 6) अश्वत्थ वृक्ष की व्याख्या (अध्याय 15 शलोक 1 से 6)
2 Description of the individual soul (Chapter 15 Slok 7 of 11) जीवात्मा का वर्णन (अध्याय 15 शलोक 7 से 11)
3 God as described (Chapter 15 Slok 12 to 15) परमेश्वर के रूप का वर्णन (अध्याय 15 शलोक 12 से 15)
4 Purushottam subject (Chapter 15 Slok 16 to 20)
पुरषोत्तम का विषय (अध्याय 15 शलोक 16 से 20)